» सन्तानहीन योग
 

 

 पंचमेश निच का हो |
 
 पंचमेश तथा सप्तमेश निच के हो |
 
 तृतीयेश तथा चन्द्रमा 1 4 6 10वें स्थान पर हो |
 
 बुध और लग्नेश लग्न के अलावा अन्य स्थानों पर हो |
 
 5,  8, या 12वें स्थानों में  पापग्रह हो |
 
 5वें भाव में चन्द्रमा तथा 8, 12वें स्थान पर पापग्रहो हों |
 
 7वें स्थान पर शुक्र, 10 में चन्द्र तथा 4 में तीन पापग्रह हो |
 
5वे स्थान में राहु व ब्रहस्पति हो |
 
पंचमेश निच का होकर अष्टम घर का हो |