» Libra Yearly Horoscope 2014
 
Libra Yearly Horoscope 2014http://www.bestastroguru.com/articles/1388042968big_libra1.jpg

तुला राशि भचक्र की सातवीं राशि है. इस राशि का विस्तार 180 अंशों से लेकर 210 अंशों तक का होता है. इस राशि के अन्तर्गत चित्रा नक्षत्र के दो चरण, स्वाति के चार चरण और विशाखा नक्षत्र के तीन चरण आते हैं. तुला राशि के स्वामी शुक्र है तथा यह चर राशि है. शुक्र के प्रभाव स्वरूप जातक में कोमलता का भाव देखा जा सकता है. इससे प्रभावित होने पर आप शांतिप्रिय, न्यायवादी तथा संतुलित व्यक्ति होते हैं. आपको अकेले रहना बिलकुल पसंद नहीं है. आप अपने जीवन में अपने साथ रहने वाले व्यक्ति को बहुत महत्वपूर्ण मानते हैं, विशेषरूप से जिन्हें आप चाहते हैं उनका आप विशेष आदर करते हैं, आपका व्यक्तित्व दूसरों का दिल जीतने वाला होता है. आप सभी को अपना पूर्ण सहयोग प्रदान करते हैं. इसलिए आप एकाकी माहौल में नहीं रह सकते हैं आपको भीड़भाड़ में सभी के मध्य रहना अच्छा लगता है.

आप सामाजिक प्राणी हैं अर्थात आपको समाज में रहना अच्छा लगता है. बिना किसी पक्षपात के आप निष्पक्ष रूप से निर्णय लेते हैं. दूसरों के साथ आप पूर्ण सहयोग करते हैं और आप प्रतिकूल परिस्थितियों में कूटनीति का सहारा भी लेते हैं. आपके व्यक्तित्व में शालीनता की झलक भी दिखाई देती है. आप जल्द ही दूसरों के साथ सामंजस्य स्थापित कर लेते हैं. दूसरों के साथ हर चीज को बांटना आपका स्वभाव है. आप निर्णय लेने की स्थिति में रहते हैं और अक्सर आप अपने कामों में लेट भी हो जाते हैं. फिर भी आप अपने दोस्तों तथा परिवार में प्रिय व्यक्ति बनते हैं.


आपको दोस्तों और परिवार के लोगों के साथ समय व्यतीत करना अच्छा लगता है. यहां तक कि अगर आपको मौका मिलता है तो आप तुरंत ही पार्टी या किसी समारोह को शुरू कराने का बीडा़ भी उठा लेते हैं. आप सामाजिक होते हैं और व्यवहार में अत्यधिक शिष्ट होते हैं. इसलिए अधिकांश व्यक्ति आपकी ओर आसानी से खिंचे चले आते हैं. आपके आसपास का प्रभामंडल सदभाव और सामंजस्य से पूर्ण होता है. आप बहुत ही सरलता से समस्याओं का समाधान ढूंढने में कामयाब होते हैं और बहुत ही समझदारी से अपने परिवार तथा मित्रों को व्यस्त रखने में सफलता पाते हैं.


आपमें इन खूबियों के होते हुए भी कुछ कमियां रहती हैं, जैसे कि आप एक अच्छे प्रेमी साबित होते हैं लेकिन एक से अधिक संबंध स्थापित करने में रूचि रख सकते है. आप किसी निर्णय को लेने में देर तक उस पर विचार करते हैं और हवाई किले अधिक बनाते हैं. किसी भी तरह का टकराव पसंद नहीं है. व्यवहारिक कम होते हैं और ख्यालों की उडा़न ज्यादा भरते हैं. मन में असंतोष व्याप्त रहता है, एक ही चीज बार-बार होने से जल्द ही उकता जाते हैं और एकरसता अच्छी नहीं लगती है.


तुला राशि के व्यवसाय


आप किसी व्यक्ति या समूह को प्रभावित करने में बहुत योग्य होते हैं. एक अच्छे वक्ता के गुण भी आप में मौजूद होते हैं आप किसी चीज का प्रस्तुतीकरण बहुत प्रभावशाली रूप से करना जानते हैं. महत्वाकांक्षी होने के साथ-साथ योजनायें बनाने व उन्हें संचालित करने की चाह भी रखते हैं धैर्यशीलता की कमी आपको अधिक प्रभावित कर सकती है. तुला राशि व्यापार, सहभागिता, कार्य में यात्राओं का सूचक है. आपमें उच्च स्तर की कलात्मक अभिरूचियाँ व योग्यताएं होती हैं. तुला राशि होने पर व्यक्ति फैशन डिजाइनिंग, चित्रकला, फेब्रिक, टेक्सटाइल, प्रसाधन के सामान, जूट, प्लास्टिक इत्यादि से संबधित कार्य कर सकते हैं.

आपको स्वतंत्र व्यापार करने की चाह भी रहती है जिस कारण से आप इसमें अधिक बेहतर साबित हो सकते हैं. कला से संबंधित व्यवसाय जैसे गायन, वादन, संगीत, कलाकार, अभिनय, सिनेमा, टीवी इत्यादि से जुड़ सकते है. डिजांइनिग सॉफ्टवेयर, इंजीनियरिंग, वेब डिजाइनिंग, बागवानी, नर्सरी, फर्नीचर डिजाइन करना जैसे क्रियात्मक कार्यो में भी हाथ आजमा सकता है. आभूषण ज्वैलरी विक्रेता के रूप में काम कर सकता है. चीनी, मिष्ठान, सजावटी सामान इत्यादि के निर्माण में कार्य कर सकता है.

2014 तुला राशिफल - पैसा और वित्तीय स्थिति

जनवरी 2014 से मार्च 2014 तक

तुला राशि के जातकों के लिए साल का आरंभ खर्चों की अधिकता लाने वाला रह सकता है. आपके आर्थिक व्यय में वृद्धि का समय होगा, आपको ना चाहते हुए भी खर्चे करने पड़ सकते हैं. आपको घर संबंधी खर्चों पर लगाम लगाने की आवश्यकता है क्योंकि आने वाली परिस्थितियों से निपटने हेतु आपको बहुत सारा धन खर्च करना पड़ सकता है. इस समय आपको अपनी माता के स्वास्थ्य हेतु भी कुछ धन लगाना पड़ सकता है.

इस समय आप पैसों को संभाल पाने में व बचत करने में कमी का अनुभव कर सकते हैं. परिवार में अचानक खर्चे बढ़ सकते हैं इसलिए वित्त संबंधी निर्णयों में अभी आपको और सोचना पडे़गा, क्योंकि आपको खुद भी समझ नहीं आएगा कि आपका धन कहां लग रहा है. यदि आप कहीं धन लगाने के बारे में सोच रहें हैं तो कुछ समय का इंतजार करें क्योंकि इस समय धन का निवेश आपके लिए व्यर्थ ही साबित हो सकता है.


अप्रैल 2014 से जून 2014 तक का समय

अभी तक जो स्थितियां बनकर सामने आ रहीं थी वह कुछ संतोषजनक रही होंगी लेकिन आने वाली तिमाही में इन प्रतिकूल स्थितियों का अभी सामना करना बाकी है क्योंकि अब जो ग्रहों की स्थितियां हैं वह आपके स्वयं के कारण अधिक प्रभावित होंगी, इसलिए जो भी करें संभलकर व विचार कर ही करें. अपने शत्रुओं से आर्थिक क्षति उठानी पड़ सकती है. इस समय आपको अपने वित्त संबंधी मसलों को सतर्क रहकर देखना होगा, आपका कुछ पैसा किसी कोर्ट केस इत्यादि में भी लग सकता है. आपको अपने कागजातों को ध्यान पूर्वक रखना चाहिए और किसी भी प्रकार की गड़बड़ी से बचना चाहिए.


आपके धन के आगमन में रूकावट उत्पन्न हो सकती है. किसी से विवाद में भी आपका पैसा लग सकता है. तिमाही के अंतिम भाग में आपका धन आपके किसी गुप्त कार्यों में भी व्यय हो सकता है. आपके साझेदार आपको परेशान कर सकते हैं और अपने पैसों की उगाही कर सकते हैं इसलिए आपकी छवि भी प्रभावित हो सकती है. यदि आपने पहले से किसी शेयर इत्यादि में पैसा लगा रखा होगा तो आपको उससे कुछ लाभ मिलने की संभावना तिमाही के अंत में दिखाई पडती है.


जुलाई 2014 से सितंबर 2014 तक का समय

इस तिमाही में आपकी स्थिति भ्रमित रह सकती है. किसी को यदि पैसा उधार देने का विचार बना रहे हैं तो अभी इसे विचार में ही रहने दें क्योंकि अभी दिया गया धन जल्द वापिस नहीं मिल पाएगा. परिवार की ओर से आर्थिक सहायता न मिलने की संभावना बनती है लेकिन आप अपनी मेहनत में कमी नहीं करेंगे और पूर्ण लगन के साथ अपनी वित्तीय स्थिति को सुधारने का प्रयास करने की कोशिश में लगे रहेंगे. इस समय आप कार्यों में टालमटोल न करें तो अच्छा रहेगा क्योंकि यदि आप कुछ बेहतर रणनीति बनाते हैं तो आपको अपने निवेश से लाभ मिल सकता है. बाजार की नीतियों पर अपनी नज़र बनाए रखें और उसी के अनुरूप अपने पैसों का निवेश करें.


तिमाही के मध्य दौरान स्थिति में सुधार की गुंजाईश बनती दिखाई देती है. आपके कमाई के स्रोत बढ़ेंगे और आप अपनी कार्यकुशलता द्वारा धनार्जन करने में सफल रहेंगे. इस समय के दौरान आपके अपने खर्चों में कुछ कमी हो सकती है तथा आपके गैरजरूरी व्ययों पर भी नियंत्रण लग सकता है. आपको पैतृक संपत्ति से भी कुछ लाभ मिलेगा और पिता का सहयोग होने से आप अपनी आर्थिक स्थिति को उन्नत करने में सक्षम रहेंगे.


अक्तूबर 2014 से दिसंबर 2014 तक का समय

इस तिमाही का समय आप लोगों के लिए सामान्य बना रहने की उम्मीद बनती है. आपने अभी तक जो भी प्रयास किए होंगे उसमें अब जाकर आपको कुछ अच्छे संकेत मिल सकते हैं. लेकिन अभी ग्रहों की स्थिति में शुक्र नीच का है और बुध उच्च का होकर वक्री स्थिति में है, इस कारण से आपको इस ओर विशेष ध्यान देने की जरूरत है कि आप जल्दबाजी में आकर कोई निर्णय न लें कुछ समय के लिए स्थिति के अनुकूल होने का इंतजार भी करें.

आपको बाजार के उतार-चढाव भी प्रभावित कर सकते हैं. कहीं न कहीं इस समय स्टाक मार्केट में निवेश करने से पूर्व कुछ सोच-विचार कर लें तो आपके लिए स्थिति सहायक बन सकती है. तिमाही के मध्य भाग से आपको अच्छे लाभ मिलने की संभावना बनती है. आप अपने स्तर में सुधार करने में सक्षम होंगे. परिवार के किसी सदस्य पर अचानक से कुछ धन खर्च हो सकता है लेकिन अब आप इस समय होने वाले परिवर्तनों को उचित प्रकार से संभाल सकते हैं.

2014 तुला राशिफल - कैरियर और प्रोफेशन

जनवरी 2014 से मार्च 2014 तक

तुला राशि के जातकों के लिए वर्ष की प्रारंभिक तिमाही कैरियर की दृष्टि से सामान्य फल ही देने वाली कही जा सकती है. आपके काम में कर्मचरियों के सहयोग की कमी देखी जा सकती है. लेकिन आप अपने क्षेत्र में अपनी धाक जमाने की पूरी कोशिश करेंगे. इस समय आप कुछ अधिक क्रोधी हो सकते हैं और आप में शांत रहने की प्रवृत्ति समाप्त हो सकती है. ऎसे में आपके जो कुलिग हैं वह आपसे दूरी बनाने की कोशिश करेंगे इस प्रकार आपका काम भी बाधित हो सकता है. स्वयं को शांत बनाए रखें और अपने काम पर ध्यान दें अधिक भावुक होने से आप ही का नुकसान हो सकता है.

जो लोग व्यवसाय से जुडे़ हुए हैं उन्हें इस समय अपने माल का पूर्ण ब्यौरा रखने की आवश्यकता है. यदि आप अपने माल की वैरायटी और किस्म का ध्यान रखेंगे तो आप प्रतिद्वंदियों के सम्मुख खडे़ हो सकते हैं अन्यथा आपको अपनी स्थिति को बनाए रखने के लिए काफी जद्दोजहद करनी पड़ सकती है. वस्त्र इत्यादि के निर्माण और काम से जुडे़ लोगों को अच्छे मौके मिल सकते हैं आप अपने व्यापार को शहर से दूर ले जाकर भी स्थापित करने का विचार मन में ला सकते हैं. आपको अपने व्यापार के लिए कुछ महत्वपूर्ण यात्राएं भी करनी पड़ सकती हैं और जिस कारण आप अपने सहयोगियों की मदद लेने के लिए भी तत्पर रह सकते हैं.


अप्रैल 2014 से जून 2014 तक का समय

आपने काम में जिस कार्यप्रणाली का अनुसरण किया होगा उसे इस समय और भी मजबूती के साथ सामने लाना होगा. आपको अपनी नौकरी में आगे बढ़ने के मौके मिल सकते हैं लेकिन प्रतिस्पर्धा काफी जोरदार रहेगी. यदि इस समय आप अपनी नौकरी को बदलने का विचार रखते हैं तो आपके लिए स्थिति कुछ कम अनुकूल दिखाई देती है. लेकिन आप अपने मन से इस विचार पर काफी जोरदार रूप से डटे रह सकते हैं. इसलिए पहले अपने लिए नई नौकरी को देखें तभी अपनी पुरानी जॉब को छोड़ने का मन बनाएं. बुध ग्रह के इस समय नीच का होने से आपकी बुद्धि भी प्रभावित रहेगी जिस कारण आप निर्णयों के दूरगामी प्रभावों से दूर रह सकते हैं.


व्यापार से जुडे़ लोगों के लिए यह समय अनुकूल रहेगा, आपको अपने काम में अच्छी पहचान मिल सकती है. इस समय साझेदारी में काम करने पर आपको धोखा भी हो सकता है या आपके साथ काम करने वाले आपको सही स्थिति से अनभिज्ञ रख सकते हैं. यदि आप किसी गलत कामों से या गुप्त कार्यों से धन कमाने में लगे हुए हैं तो इस समय आपको उन्हें रोक देना चाहिए अथवा अपनी गतिविधियों पर नियंत्रण लगाने की कोशिश करनी चाहिए क्योंकि अभी स्थिति के बिगड़ने की संभावना दिखाई देती है, पर जल्द ही स्थिति में सुधार होगा और आप अपनी स्थिति को सुधार सकेंगे व आगे तक ले जाने में सफल रहेंगे.


जुलाई 2014 से सितंबर 2014 तक का समय

यह समय आपको अपनी परेशानियों से काफी हद तक निजात दिलाने वाला रह सकता है. आपको अपने काम में या नौकरी में तरक्की मिल सकती है, इस समय आपके उच्चाधिकारी भी आपसे संतुष्ट रह सकते हैं. आपको अपने बॉस का अच्छा सहयोग मिल सकता है. दशम भाव में गुरू की उच्च स्थिति के कारण काम में आप अपने प्रतिद्वंदियों को पछाड़ने में कामयाब रहेंगे. तिमाही का आरंभ और मध्य भाग आपकी राह को आगे तक ले जाने में सहायक बनेगा. आप अपने सहकर्मियों से भी सहयोगात्मक स्थिति प्राप्त कर सकते हैं.


व्यापार में आपको मुनाफा मिलेगा आप अपने काम में लाभ की स्थिति को बनाए रखने में कामयाब रह सकते हैं. आपको अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत बनाने के लिए प्रयासों में तेजी बनाए रखनी चाहिए. क्योंकि अभी की स्थिति तो अनुकूल है किंतु तिमाही के अंतिम भाग में आपके लाभ में कमी हो सकती है. आपको अपने व्यापार को बढा़ने के लिए कुछ धन का व्यय करना पड़ सकता है तथा इस समय आप लोन या ऋण लेने का विचार भी कर सकते हैं. आप अपने काम के सिलसिले में बाहर की यात्रा भी कर सकते हैं, अपने शत्रुओं को परास्त करने में काफी हद तक सफल भी रहेंगे लेकिन घाटे की स्थिति से बचने के लिए भूतकाल में किया गया निवेश इस समय उपयोगी हो सकता है.


अक्तूबर 2014 से दिसंबर 2014 तक का समय

काम के माहौल में खुद को ढ़ालने के लिए आपको अब तैयार हो जाना चाहिए और अपने पहनावे और सलीके पर ध्यान देना चाहिए. अभी जल्दबाजी न करें और तिमाही मध्य के समय तक का इंतजार करें, क्योंकि इस समय के दौरान ही आपको कुछ राहत मिलने के संकेत प्राप्त हो सकते हैं. अभी आप अपने काम को किसी के साथ मिलकर करने की सोच रहे हैं तो आपको लाभ की प्राप्ति होगी.

जो लोग प्रॉपर्टी के व्यवसाय में कार्यरत हैं उनके लिए समय अनुकूल दिखाई पड़ रहा है. आप निर्माण कार्यों द्वारा भी मुनाफा कमाने में सक्षम रहेंगे. आपको अभी अपने प्रयासों में तेजी करनी होगी और परिश्रम द्वारा आप अपने प्रतिद्वंदियों को धूल चटाने में सफल हो सकते हैं. आप लगातार होने वाली कोशिशों में लगे रहेंगे तो सफलता अवश्य मिलेगी और आप मंजिल तक पहुंचने में सफल हो जाएंगे.

2014 तुला राशिफल - हैल्थ और फिटनेस

जनवरी 2014 से मार्च 2014 तक

इस तिमाही स्वास्थ्य संबंधी मिलेजुले फल मिलेंगे, आपमें आलस्य और थकावट बनी रह सकती है. आपको अपनी आँखों का विशेष ख्याल रखना चाहिए क्योंकि नेत्र संबंधी कुछ परेशानी उत्पन्न हो सकती है. तिमाही मध्य में आपमें क्रोध की अधिकता हो सकती है इस कारण आपका रक्तचाप भी बढ़ सकता है अत: अपनी सेहत का ख्याल रखें और स्वयं को शांत रखते हुए काम करें.

यदि आपने इस समय अपने स्वास्थ्य को लेकर लापरवाही दिखाई तो आगे चलकर यह स्थिति अन्य विकारों की उत्पत्ति का कारण भी बन सकती है. इस समय शारीरिक थकावट होने से किसी काम में मन न लग पाने की स्थिति भी बन सकती है, आपको चाहिए कि आप अपने को एक्टिव रखें और योग, ध्यान अथवा व्यायाम के द्वारा फिट रहने का प्रयास करें.


अप्रैल 2014 से जून 2014 तक का समय

इस तिमाही में आपको पेट में जलन या गैस्ट्रिक संबंधी तकलीफ परेशान कर सकती हैं. आपके काम में आपका स्ट्रैस बढ़ सकता है जिस कारण थकावट हो सकती है साथ ही जोडों में दर्द की शिकायत परेशान कर सकती है.


तिमाही के दूसरे भाग से आपको स्वास्थ्य को लेकर अधिक सतर्क रहने की जरूरत है. इस समय आपको यौन संक्रमण का खतरा अधिक रह सकता है इसलिए आप किसी भी ऎसी गतिविधियों में शामिल न हों जिससे आपकी सेहत में यह विकार उत्पन्न होने का भय बने. महिलाओं को माहवारी संबंधी कुछ तकलीफे परेशान कर सकती हैं इसलिए डाक्टर से चेकअप करा लेना आपके लिए बेहतर सिद्ध होगा. अपनी आहार संबंधी आदतों व साफ सफाई का विशेष ख्याल रखें ऎसा करने से आप काफी हद तक संक्रमणों से बचाव कर सकते हैं.


जुलाई 2014 से सितंबर 2014 तक का समय

तिमाही आरम्भ में आपका स्वास्थ्य मौसम मे आने वाले बदलावों से प्रभावित हो सकता है. सर्दी जुकाम की परेशानी बढकर ज्वर का कारण भी बन सकती है. गर्म सर्द से बचें तो इन स्थितियों से मुक्त हो सकेंगे. जो लोग मधुमेह से पीड़ित हैं उन्हें अपनी नियमित जांच कराते रहना चाहिए.

आपको जांघों में दर्द की शिकायत होने की भी संभावनाएं बन रही है. अपने स्वास्थ्य को अनुकूल रखने के लिये आपको भाग-दौड में कमी कर स्वयं को चिन्ता मुक्त रखने का प्रयास करना हितकारी रहेगा. स्वास्थ्य को सबसे ज्यादा खतरा फूड पाइजनिंग के कारण हो सकता है. आपको अपने खाने में ताजे फलों और सब्जियों का उपयोग करना चाहिए. खुद को स्वस्थ रखने के लिए सुबह की सैर अथवा मेडिटेशन का सहारा लेना अच्छा रहेगा.
अक्तूबर 2014 से दिसंबर 2014 तक का समय

इस तिमाही में कई सारे ग्रहों का प्रभाव आपके ऊपर देखा जा सकता है. ग्रहों के प्रभाव के कारण समय-समय पर आपको हेल्थ से संबंधी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. इसलिए आपको स्वास्थ्य को लेकर सचेत रहना जरूरी होगा. आपको अपनी आहार संबंधी आदतों पर नियंत्रण करने की जरूरत है.

हृदय के रोगियों को अपना डाक्टरी चेकअप कराते रहना चाहिए जिससे हेल्थ सही रहे. इस राशि के बच्चों को छोटी मोटी चोट लगने की आशंका है इसलिए अभिभावकों को उनका ख्याल रखना चाहिए. माह के अंतिम भाग में चिन्ताओं के कारण मानसिक तनाव बढ सकता है परन्तु इसका शरीर पर प्रभाव कम ही पड़ने की संभावना बनती है क्योकि इस समय आप में रोगों से लडने की शक्ति अधिक बनी हुई है, इसके फलस्वरुप शारीरिक रोग आपको शीघ्र प्रभावित नहीं कर पायेगें.

विशेष - गर्भवती महिलाओं को इस अवधि के दौरान अपना विशेष ख्याल रखना चाहिए.

2014 तुला राशिफल - प्रेम संबंध

जनवरी 2014 से मार्च 2014 तक

प्रेम संबंधों के लिए साल का आरंभ नए संबंधों को लेकर आ सकता है. आप अपने प्रेमी के साथ अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं. वैवाहिक संबंधों में बंधने का समय है इसलिए तैयार हो जाएं और अपनी पसंद को रिश्तों में बदलते हुए देखिए. सब होते हुए भी कुछ दिक्कतें तो उभर ही सकती हैं. आपका क्रोध करना या जल्द रुठना साथी को परेशान कर सकता है इससे आप संबंधों में दूरी का ऎहसास कर सकते हैं.

तिमाही मध्य भाग के दौरान आपका मन एक से ज्यादा संबंधों में रह सकता हैं. इस समय आपका झुकाव अन्य मित्रों के साथ भी अधिक बढ़ सकता है, इसलिए परिवार में आपके रिश्तों को लेकर कुछ मतभेद उत्पन्न हो सकते हैं. लेकिन आपका अपना इस ओर से हट पाना मुश्किल हो सकता है और आपको अपने संबंधों में स्थिरता लाने में कठिनाई का सामना करना पड़ सकता है.


अप्रैल 2014 से जून 2014 तक का समय

आपने जो भी पहले काम किए हैं उन्हें यदि आप सुधार नहीं पाते तो आपको अपने कार्यों द्वारा काफी परेशानी झेलनी पड़ सकती है. आपके शत्रुओं को मौका मिल सकता है कि वह आपके संबंधों को अन्य लोगों के समक्ष उछालें इसलिए इस समय आपको काफी सचेत रहने की आवश्यकता होगी. आपका प्रेम संबंध विवाह में बदलने पर रोक लग सकती है या नाना पक्ष के लोग आपके संबंधों में अपनी हामी देने में आनाकानी कर सकते हैं.


आने वाले समय में कुछ जातक गुप्त रूप से विवाहेतर रिश्तों में संलग्न रह सकते हैं. आप एक से ज्यादा रिलेशन से बंधे रह सकते हैं. आपके इंटनेट या फोन फ्रैंड बन सकते हैं पर ध्यान रहे की किसी जालसाजी़ का शिकार न हो जाएं अन्यथा लेने के देने पड़ सकते हैं. अपने संबंधों को सभी से छुपाकर रखने की कोशिश करेंगे. इस समय आपको यह संबंध सुखद अनुभूति दे सकते हैं लेकिन आने वाले समय के लिए यह आपके लिए तनाव का रूप ले सकते हैं और आपके मान सम्मान पर आंच भी आ सकती है.


जुलाई 2014 से सितंबर 2014 तक का समय

इस समय आप संबंधों में स्थिरता लाने का प्रयास करेंगे. आपको भाग्य का साथ मिल सकता है और आप अपने प्रेम को विवाह के रूप में बदलते भी देख सकते हैं. कुछ जातकों को कार्यस्थल पर अपने सकर्मियों के लिए भी आकर्षण का भाव उत्पन्न हो सकता है. उनके साथ आप प्रेम की चाह रख सकते हैं. आप इस अवधि के दौरान अपने से बड़ी उम्र के लोगों की ओर भी आकर्षित हो सकते हैं.

प्रेम प्रसंगों में लापरवाही अच्छी नही है रिश्तों में दूरियां आने से पहले ही उनमें अपने लगाव और भरोसे का रंग भर दें तो अच्छा होगा. किसी रिलेशन में जल्दबाजी करना उचित नहीं और प्रेम संबंधों में तो कतई नही, इसलिए अपने प्यार को कुछ समय दें और उसकी इच्छा को समझें. यदि आप लापरवाही दिखाते हैं या किसी छोटी बात को बडा मुद्दा बनाने की कोशिश करते हैं तो आपके रिलेशन में समस्या उत्पन्न हो सकती हैं.


अक्तूबर 2014 से दिसंबर 2014 तक का समय

वर्ष की अंतिम तिमाही का पहला भाग आपको मानसिक तनाव देने वाला रह सकता है. आपके संबंधों में जो विवाद की स्थिति उभर रही होगी वह आपको प्रेमी से दूर ले जा सकती है. इस समय आपके मनमुटावों में काफी वृद्धि रह सकती है. आप उचित निर्णय लेने में असफल रह सकते हैं और कोई न कोई वैचारिक मतभेद आपकी दूरी का कारण बन सकता है. ऎसे समय में आपको किसी न किसी प्रकार से कोई न कोई परेशानी की मुक्ति की चाह किसी अन्य राह की ओर ले जा सकती है, आप किसी गलत गतिविधियों में शामिल हो सकते हैं. अत: स्वयं पर नियंत्रण रखें क्योंकि जल्द ही स्थिति में सुधार की संभावना बनती दिखाई देती है.

तिमाही के दूसरे भाग में आपके परिवार वाले आपके रिश्तों में आई दूरी को कम करने के लिए सहायक सिद्ध हो सकते हैं. उनकी ओर से मिली सहायता आपके प्रेम संबंधों को सुधारने में लाभकारी रहेगी. यदि पिछली तिमाहियों में आपका प्रेम विवाह टलता चला आ रहा है तब इस तिमाही में आपको विवाहसूत्र में बंधने का मौका भी मिल सकता है और आप अपने प्रेमी के साथ को पाकर सुखद अनुभव का अहसास करेंगे.

2014 तुला राशिफल - विद्यार्थी

जनवरी 2014 से मार्च 2014 तक

विद्यार्थियों के लिए यह तिमाही अनुकूल रहने वाली है. इस समय आप किसी टेक्निकल शिक्षा को पाने का प्रयास कर सकते हैं. इसी के साथ आप अपने अध्यापकों द्वारा अभी कुछ निर्देश पा सकते हैं जो आपको अपनी दिशा निर्धारित करने में सक्षम होंगे. शिक्षा में आपके शुरूआती प्रयास आगे चलकर अच्छे परिणाम देने वाले हो सकते हैं. आपको अभी किसी भी प्रकार की व्यर्थ की बातों में नहीं पड़ना चाहिए.

तिमाही के मध्य भाग के उपरांत आपका मन पढा़ई की ओर से हट भी सकता है. आपमें क्रोध अधिक होने से आपको सही बातों का निर्णय लेने में दिक्कत आ सकती है. लेकिन यदि आप अपने निर्धारित लक्ष्यों को ध्यान में रखते हुए आगे बढते हैं तो आपको सही स्थिति मिल सकती है.


अप्रैल 2014 से जून 2014 तक का समय

यदि आपने अभी भी शिक्षा के क्षेत्र में लापरवाही का रवैया अपनाए रखा तो शिक्षा के क्षेत्र में इस समय आपको कई परेशानियों को झेलना पड़ सकता है. आपका पढाई की ओर अधिक ध्यान नहीं लग पाएगा. आप अपनी शिक्षा की ओर ज्यादा एकाग्रचित नहीं रह पाएंगे. आपको अपनी सफलता को पाने में अधिक प्रयास करने पडेंगे पर कुछ न कुछ दिक्कतें बनी रह सकती हैं. आपके प्रयासों में रूकावटें भी बनी रह सकती हैं.

तिमाही मध्य के बाद यदि आप लगातार मेहनत करते हैं तो भाग्य की बाधाओं में भी कमी होगी. व्यर्थ की बातों में ध्यान देने के स्थान पर अपनी पढाई की ओर ध्यान लगाना होगा. इस अवधि में आपकी जिम्मेदारियों में इजाफा होगा और कार्यो का बोझ भी बढ सकता है. जो विद्यार्थी किसी रिसर्च से जुडे़ हुए हैं उनके लिए समय अनुकूल रह सकता है और आपको अपनी रिसर्च में अच्छा स्कोर मिलने की उम्मीद बनती है.


जुलाई 2014 से सितंबर 2014 तक का समय

अभी तक जो ध्यान भटकाव की स्थिति में रहा वह अब सही दिशा को पा सकता है. अभी तक जो असमंजस की स्थिति बनी हुई थी, जिस कारण से आपको कई प्रकार की परेशानियां झेलनी पड़ रही थीं, उनसे मुक्त होने की संभावना बनती दिखाई दे रही है. आप अपनी शिक्षा को आगे तक बढा़ने की कोशिशों में सफलता पा सकते हैं. आपको कई प्रकार से इन उतार-चढावों को झेलते हुए आगे बढ़ने की प्रेरणा मिल सकती है. आपको अपने अध्यापकों का साथ मिल सकेगा और उनके परामर्श द्वारा आप आगे तक की राह को पाने में काफी हद तक सफल सिद्ध हो सकेंगे.

जिन छात्रों की पढ़ाई समाप्ति की ओर है और वह इस समय नौकरी की तलाश आरंभ करना चाहते हैं तो कर सकते हैं उन्हें सफलता मिल सकती है.


अक्तूबर 2014 से दिसंबर 2014 तक का समय

इस तिमाही जो शिक्षार्थी घर से दूर जाकर शिक्षा ग्रहण करने की चाह रखते हैं उन्हें अपने प्रयासों में तेजी करनी चाहिए क्योंकि आने वाले समय के दौरान आप इस ओर कदम बढा सकते हैं. विदेश में शिक्षा की योजना अब अपना असली रूप ले सकती है. यदि आपने किसी प्रतियोगिता में भाग लिया है तो आपको अच्छे फल मिलने की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता है.

विद्यार्थियों को अपने अभिभावकों की ओर से पूर्ण सहयोग मिल सकेगा. इस समय आपको अपने परिवार का समर्थन मिलेगा जिससे आपकी महत्वकांक्षाओं को उडा़न भरने का मौका मिल सकेगा. आप अपनी शिक्षा द्वारा दूसरों का भी भला करने का सोच सकते हैं ट्यूशन इत्यादि देकर आप अपने ज्ञान को दूसरों के समक्ष बांट सकते हैं. इससे आपका अपना ज्ञान बढ़ने के साथ जेबखर्ची भी निकल सकेगी.

2014 तुला राशिफल - यात्रा

जनवरी 2014 से मार्च 2014 तक

वर्ष के आरंभ की इस तिमाही में आपकी यात्राएं परिवार से दूर जाकर रहने के लिए हो सकती हैं. आप अपनी इन यात्राओं में कुछ अपने लिए भी करेंगे और आपकी स्थिति इस समय पर यात्रा की भागदौड़ के कारण असमंजस का रूप ले सकती है. आप अपने कामों को टालने की कोशिश भी कर सकते हैं तथा सभी स्थितियों को दरकिनार करते हुए यात्राओं पर जा सकते हैं. यात्रा के दौरान अपने सामान को अपनी निगरानी में रखें क्योंकि किसी भी प्रकार से आप परेशानी में पड़ सकते हैं. बाहर जाने के लिए जो भी जरूरी कागजात हैं उन्हें अपने पास ही रखें ताकि कोई रूकावट न आ सके.
अप्रैल 2014 से जून 2014 तक का समय

इस तिमाही में आपकी यात्राओं में अवरोध बने रह सकते हैं. लेकिन फिर भी आप अपनी यात्राओं द्वारा बाहर जाकर अपने काम को पूरा करने में लगे रह सकते हैं, पर आपको इस ओर प्रयास अधिक करने पड़ सकते हैं. कोई न कोई कागजी कार्यवाही या अन्य कोई कारण आपकी यात्रा में रुकावट का कारण भी बन सकता है. तिमाही के अंतिम भाग के दौरान आप अपने पिता के साथ किसी धार्मिक यात्रा के लिए प्रस्थान कर सकते हैं या हो सकता है कि आप अपने गुरू के साथ उसके आश्रम में जाकर रहने का सोचें. किसी मनोरंजन स्थल की ओर जाने के लिए आप अपने मित्रों के साथ और कैम्प के साथ जाने का सोच सकते हैं.


जुलाई 2014 से सितंबर 2014 तक का समय

तिमाही के मध्य भाग में आप अपने आर्थिक क्षेत्र को मजबूत करने के लिए भी कोई जोड़ तोड़ कर सकते हैं. जिसके लिए आपको कहीं बाहर आना-जाना पड़ सकता है. आयात निर्यात के काम को लेकर भी आप विदेश यात्रा कर सकते हैं. इस समय की जाने वाली यात्राओं से आपको कुछ लाभ की प्राप्ति तो संभव बनती ही है, लेकिन एक दुविधा की स्थिति भी मन में बनी रह सकती है. यात्राओं के कारण इस समय आप शारीरिक रूप से थकावट का अनुभव भी कर सकते हैं.

यदि आप अपने आफिस की तरफ से यात्राओं पर जा रहे हैं तब आपके लिए मिश्रित फल प्रदान करने वाली यात्राएँ रह सकती है लेकिन जिस काम के लिए आप विदेश यात्रा कर रहे हैं, सभी परेशानियों व अड़चनों के बावजूद अंतिम समय में आपका काम अप्रत्याशित रुप से ब‌न सकता है लेकिन तिमाही के अंत तक भी ना बन पाया तब दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है.


अक्तूबर 2014 से दिसंबर 2014 तक का समय

तिमाही के इस भाग में द्वादशेश की वक्री स्थिति के कारण एक ही काम को लेकर कई बार यात्राएँ करनी पड़ सकती है और बारंबार प्रयासों से ही सफलता मिल सकती है. बार-बार की यात्रा से धन का भी अपव्यय होता रहेगा. ग्रहों की स्थिति के कारण मन में वैचारिक उथल-पुथल बनी रह सकती है. यह तिमाही यात्राओं में मिलेजुले फल देने वाली रह सकती है. इस तिमाही में आपको अपनी यात्रा में कम दूरी की यात्राओं को अधिक करना पड़ सकता है.

परिवार के साथ कहीं घूमने जाने की योजनाएं जो काफी समय से चली आ रही थीं उन्हें अंजाम तक पहुंचाने का समय आप तिमाही के अंतिम भाग में कर सकते है. इस समय आप धार्मिक स्थलों की यात्राओं को करेंगे तथा यह यात्रा भी आप परिवार के करीबी लोगों के साथ ही करने में उत्साहित रहेंगे.

2014 तुला राशिफल - परिवार

जनवरी 2014 से मार्च 2014 तक

साल के आरंभ में पारिवारिक गतिविधियों के बढ़ने से आप उनसे दूर जाकर रहने की कोशिश कर सकते हैं. कुछ समय आप शांति व सुख से बिताने की चाह रख सकते हैं. तिमाही के आरंभ में परिवार में कुछ मेहमानों का आना-जाना लगा रह सकता है लेकिन आप कुछ ज्यादा रुचि नहीं लेंगें क्योकि आपको फालतू की बातें करना नापसंद हो सकता है अथवा आप अपनी ही एक अलग दुनिया बनाकर चलते हैं. इस समय आपका झुकाव अपनी माता की ओर ज्यादा रह सकता है और माता से लाभ मिलने की भी संभाव‌ना इस समय बनती है.

इस तिमाही में आप बिना कारण चिड़चिड़ापन महसूस कर सकते हैं. जरा - जरा सी बातों को आप तूल दे सकते हैं जबकि आपको ऎसी बातों से बचना चाहिए. दाम्पत्य जीवन कुछ खास नहीं रहेगा और इस कारण आप दोनों के मध्य तनाव बढ़ सकता है. आपका जीवनसाथी व्यय बढ़ा सकता है और फिजूल की चीजों में धन का व्यय कर सकता है. इस कारण तिमाही के दूसरे व तीसरे भाग में आप दोनों पति-पत्नी परस्पर एक-दूसरे पर छोटी - छोटी बातों को लेकर छींटाकशी कर सकते हैं.


अप्रैल 2014 से जून 2014 तक का समय

तिमाही के इस भाग में परिवार में जमीन आदि के मामलों को लेकर कुछ विवाद हो सकता है, जिस कारण आपका घरेलू सुख अत्यधिक प्रभावित हो सकता है. आपके लिए वाद - विवाद को सुलझा लेना ही हितकर होगा आपको अत्यधिक मानसिक दबाव से होकर गुजरना पड़ सकता है. जमीन के इस विवाद को लेकर आपके अपने रिश्तेदार नीचता क परिचय देने से भी चूकेंगें नहीं. आपके लिए अच्छा यही होगा कि आपको अपने शत्रुओं से दूरी बनाकर चलना चाहिए क्योंकि इस समय आप पर आपके शत्रु अधिक दबाव बनाने की कोशिश कर सकते हैं.

आपके लिए अच्छा यही होगा कि आप विवाद से दूर रहने का प्रयास करें, अन्यथा आपको कोर्ट आदि के चक्करों में भी आपके विरोधी आपको घसीट सकते हैं. जमीन संबंधी यह विवाद तिमाही के अंत में कुछ शांत हो सकता है और आप अपने शत्रुओं पर नियंत्रण पाने में कामयाब हो सकते हैं. यह शांति किसी वरिष्ठ व्यक्ति की मध्यस्थता से होने की संभावना बनती है. तिमाही के मध्य भाग से माता का स्वास्थ्य आपके लिए चिन्ता का विषय बन सकता है.


जुलाई 2014 से सितंबर 2014 तक का समय

इस तिमाही में आप अपने लिए संपत्ति की खरीद भी कर सकते हैं और आपका रुका हुआ धन भी मिलने के आसार बनते हैं. आपको विदेशों से भी लाभ प्राप्ति के योग बन रहे है. सरकार की ओर से कुछ अच्छे संकेत मिल सकते हैं. आत्मविश्वास की अधिकता से आमदनी में इजाफा होगा. व्ययों पर नियन्त्रण रहने से भी आर्थिक स्थिति को सहयोग प्राप्त होगा. आप अपने प्रयासों से कुछ धन प्राप्त कर सकते हैं इस समय भू-संपदा द्वारा भी आपको कुछ आर्थिक लाभ के संकेत मिल रहे हैं. पिता के सहयोग द्वारा भी आप अपनी स्थिति को सदृढ़ कर पाने में सफल रहेंगे.

तिमाही का मध्य भाग आपके लिए सभी प्रकार से अनुकूल रह सकता है लेकिन फिर भी आपके मन में अकारण भय सा समाया रह सकता है क्योकि आप अपने भविष्य को लेकर खुद को असुरक्षित महसूस कर सकते हैं और बिना बात का वहम अपने मन में पाल सकते हैं. इस वहम से खुद को आप स्वयं ही निकाल साक्ते हैं क्योकि इस विषय में कोई आपकी मदद नहीं कर सकता है. आप अपने आप को दृढ़ निश्चयी बनाएं और व्यवहारिक बनिए.


अक्तूबर 2014 से दिसंबर 2014 तक का समय

इस तिमाही में अपनी माता से आपको धन की प्राप्ति हो सकती है अथवा अगर आपका धन कहीं अटका हुआ है तो इस तिमाही के दौरान आपको मिल सकता है. इस तिमाही में मंगल की स्थिति अच्छी रहने से भूमि लाभ हो सकता है और तिमाही के अंत में तो मंगल की उच्च स्थिति के कारण भूमि एवं निर्माण कार्यों से लाभ वृद्धि बढ़ती ही रह सकती है. इस तिमाही में आप अपनी मेहनत में वृद्धि करेंगे और किसी बाहरी व्यक्ति से भी आर्थिक लाभ पा सकते हैं.

परिवार में कुछ पूजा पाठ व अन्य कार्यक्रम भी संपन्न हो सकते हैं. जीवन साथी के साथ सुख में वृद्धि बनी रह सकती है व साथी का झुकाव आपकी माता की ओर भी बना रह सकता है. संतान आपकी आर्थिक स्थिति को सुधारने में मददगार साबित हो सकती है. संतान की ओर से भी संतोष मिल सकता है. दांपत्य जीवन में जो कलह पिछले काफी समय से चला आ रहा था वह इस तिमाही में खतम हो सकता है.
2014 में तुला राशि के लिए उपाय

आपकी कुंडली में शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव अपने पीक (चरम) पर रहेगा, इसलिए शनिदेव को शांत रखने का प्रयास करें और प्रतिदिन संध्या समय में 11बार शनि स्तोत्र का पाठ करें लेकिन यह पाठ रविवार के दिन ना करें. इसके साथ ही आपको प्रत्येक बुधवार के दिन विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ अवश्य करना चाहिए.